Advertisements

चालक की सूझबूझ से टल गया बड़ा हादसा!

  • पद्धर

मंडी-पठानकोट नेशनल हाई वे में एक बार फिर बड़ा हादसा होते होते टल गया। चालक की सूझबूझ से एचआरटीसी की बस में सवार लगभग चालीस यात्रियों की जान बच गई। अन्यथा घटना का मंजर ख़ौफ़नाफ़ होता।

सोमवार रात्रि पौने 11 बजे धर्मशाला से त्रिलोकीनाथ जा रही निगम के केलांग डिपो की बस नंबर एचपी 66-3772 की उरला से एक किलोमीटर आगे बाईंनाला कोटरोपी की उतराई में ब्रेक फेल हो गई।

House of Amigos

House of Amigos | For a great adventure in Manali !

चालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए बस को ऊपर की तरफ पहाड़ी से टकराया। जिससे बस नियंत्रित हो गई। घटना में बस का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ है। जबकि बस में सवार सभी यात्री सुरक्षित बच गए। किसी भी यात्री को कोई चोट नही लगी है।

बस में 37 यात्रियों सहित आधा दर्जन निगम का स्टाफ सवार था।

क्षेत्रीय प्रबंधक केलांग किशोरी लाल यादव ने बताया कि घटना में सभी यात्री सुरक्षित है। बस में क्या तकनीकी खराबी थी। इसकी मेकेनिकल जांच की जाएगी।

कोटरोपी के बाईंनाला की उतराई में ब्रेक फेल होने पर पहाड़ी से टकराई बस।

Hostel in Manali

House of Amigos, Top rated best boutique Youth Hostel in Manali

लाहौल-स्पीति युकां अध्यक्ष ‘दीपक ठाकुर’ को लोकसभा चुनाव से पहले क्लीन चिट

केलांग: लाहौल-स्पीति युकां अध्यक्ष दीपक ठाकुर को फिर से बहाल कर दिया गया है। उन्हें गत विधानसभा चुनाव के दौरान भीतरघात के आरोप में निष्कासित किया गया था। लेकिन उन्होंने कुल्लू में पार्टी प्रत्याशी के हित में काम करने का दावा किया था। इस पर उन्हें अब हाईकमान से क्लीन चिट मिल गई है।

गत विधानसभा चुनाव के दौरान युकां अध्यक्ष को निष्कासित करने का मामला खूब गरमाया था। निष्कासन के बाद उन्होंने कई मंचों पर हाईकमान के समक्ष पार्टी हित में काम करने के सबूत दिए। करीब एक साल बाद उन्हें लोकसभा चुनाव से पहले क्लीन चिट मिल गई है। उनकी बहाली पर युकां पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं में खुशी है। पूर्व मार्केटिंग बोर्ड के सदस्य व लाहौल-स्पीति कांग्रेस सेवादल के प्रभारी दीनानाथ भंडारी ने लाहौल-स्पीति युकां अध्यक्ष दीपक ठाकुर के बहाली पर खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि इस फैसले से संगठन को मजबूती मिलेगी।

House of Amigos

House of Amigos | For a great adventure in Manali !

अध्यक्ष रोबिन ठाकुर व युवा कांग्रेस प्रवक्ता निर्मल सिंह, महासचिव अजीत, युकां के पूर्व महासचिव दोरजे, युकां के पूर्व लाहौल ब्लॉक के अध्यक्ष नितिन, लाहौल-स्पीति छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष सूरज, रवि, शुभम, मूरिंग से रोशन, सलपत से सुरेश, किशन, गणेश, नरेश, गौरव, राजीव, रमेश, अनिल, विनोद, सुरेंद्र, राजीव, देवी सिंह, शैलेंद्र राणा, जगदीश, कमल ने लाहौल-स्पीति युकां अध्यक्ष को लेकर हाईकमान की ओर से दिए फैसले का स्वागत किया है।

उन्होंने कहा कि युकां अध्यक्ष की बहाली से निश्चित रूप से संगठन को मजबूती मिलेगी। कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों ने युकां राष्ट्रीय प्रभारी कृष्णा अल्लावारु, राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव चंद यादव, उपाध्यक्ष श्रीनिवासन, हिमाचल युकां के प्रभारी जगदेव गागा व हिमाचल युकां के अध्यक्ष मनीष ठाकुर का आभार जताया है।

इधर, लाहौल-स्पीति युकां अध्यक्ष दीपक ठाकुर ने कहा कि वह पार्टी के सच्चे सिपाही है। सच की जीत हुई है। वह दोबारा सक्रियता से लाहौल-स्पीति युकां को मजबूत करने के लिए काम करेंगे।

Hostel in Manali

House of Amigos, Top rated best boutique Youth Hostel in Manali

… तो अगले साल ही खुलेगा रोहतांग दर्रा !

केलांग : बर्फबारी से रोहतांग दर्रा बंद होने पर अब इसे यातायात के लिए खोलने की संभावना बेहद कम है। बीआरओ ने लाहौल-स्पीति प्रशासन को अलर्ट कर दो दिन में खाद्यान्न और अन्य जरूरी सामान घाटी में पहुंचाने को कहा है। आम जनता को भी समय रहते रोहतांग दर्रा आर-पार करने के लिए कहा है। 12 नवंबर से हिमाचल में भारी बारिश और बर्फबारी की चेतावनी के बाद बीआरओ ने जिला प्रशासन को यह अलर्ट जारी किया है।

बीआरओ 70 आरसीसी के कमांडर कर्नल एसके अवस्थी ने उपायुक्त लाहौल-स्पीति अश्वनी कुमार चौधरी को फोन कर इसकी जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि इस बार बर्फबारी से सितंबर के बाद करीब तीन बार रोहतांग दर्रा बंद हो चुका है। हालांकि, 15 नवंबर के बाद दर्रा आधिकारिक तौर पर यातायात के लिए बंद हो जाएगा। बीआरओ के अलर्ट के मुताबिक 12 नवंबर की बर्फबारी के बाद अगर रोहतांग बंद हो जाता है तो इसके खुलने की संभावना कम है।

House of Amigos

House of Amigos | For a great adventure in Manali !

एसडीएम केलांग अमर नेगी ने बताया कि 12 नवंबर के बाद बर्फबारी होने की सूरत में दर्रा फिर बहाल नहीं होगा। लिहाजा, घाटी के लोग समय रहते रोहतांग दर्रा के आर-पार हो जाएं। कर्नल एसके अवस्थी ने उपायुक्त अश्वनी कुमार चौधरी को इस बारे में अवगत करवाया है। बीआरओ घाटी से अपने अधिकांश मजदूरों और मशीनों को मनाली शिफ्ट कर चुका है। प्रशासन ने जनता से दो दिन के भीतर रोहतांग दर्रा के जरिये अपने जरूरी कामकाज निपटाने की अपील की है।

Hostel in Manali

House of Amigos, Top rated best boutique Youth Hostel in Manali