Advertisements

नेत्र-बबली संदिग्ध मौत मामले में 3 वर्ष बाद एफआईआर दर्ज

परिजनों को जगी इंसाफ की उम्मीद, पुलिस कर रही बेहद जिम्मेदारी के साथ जांच

  • News81, पांवटा साहिब

पांवटा साहिब में तीन साल पहले हुई नेत्र व बबली की संदिग्ध मौत के बाद पुरवाला थाने में इस मामले में तीन साल बाद वीरवार को एफआईआर दर्ज हो गई है।

दरअसल 15 अगस्त 2016 को नेत्र व बबली घर से लापता हो गए थे। उसके बाद 17 अगस्त को सुबह के वक्त नेत्र व बबली का पुलिस ने सिरमौरी ताल खड्ड से सामान बरामद किया गया था । फिर उसके बाद दोपहर के वक्त दोनों के अस्त व्यस्त शवों को सिरमौरी ताल खड्ड से बरामद किया गया था। क्षेत्र में दोनों युवाओं की संदिग्ध मौत के बाद कई तरह की अटकलें लगाई जा रही थी। साथ ही परिजनों सहित ग्रामीणों द्वारा भी पुलिस पर लगातार नेत्र-बबली की मौत का खुलासा करने का दबाव बनाया जा रहा था।

House of Amigos

House of Amigos | For a great adventure in Manali !

बता दे की सतौन निवासी नेत्र सिंह व शिलाई के जुईनल निवासी बबली की मौत के मामले में अब तक कई खुलासे हुए हैं ।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक नेत्र व बबली की मौत 15 अगस्त को ही हुई थी। दोनों युवा इसी दिन सिरमौरी ताल खड्ड में गए थे।

65 वर्षीय कांसूराम के बयान में खुलासा हुवा था की 15 अगस्त को दोपहर के समय सिरमौरी ताल खड्ड में भारी मात्रा में पानी आया था। पानी के इस मंजर को देख कांसूराम भी घबरा गया था।

सूत्रों के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आई थी कि मृतक नेत्र सिंह व बबली के फेफड़ों व पेट में पानी भरा था, जोकि मटमेला था। इसके बाद पुलिस ने आईजीएमसी से दोनों मृतकों का बिसरा भी मांगा था ताकि उसे जुनगा स्थित फोरेसिंक लैब में भेजा जा सके।
ताकि दोनों की मौत के मामले में किसी भी तरह का संदेह न रहे ।

इसलिए पुलिस ने बिसरा भेजने का फैसला लिया है। जुनगा लैब में बिसरा भेजकर पुलिस हर तरह के संदेह को दूर करना चाहती है। चूंकि नेत्र-बबली के शवों का पोस्टमार्टम उच्च स्तरीय टीम जिसमें फोरेसिंक के विशेषज्ञ डाॅक्टर भी शामिल थे ने इस बात को काफी हद तक साफ कर दिया था कि दोनों की मौत डूबने के कारण ही हुई है

इस बारे में थाना प्रभारी संजय शर्मा ने बताया की तीन साल बाद पुरवाला थाने में इस मामले की एफआईआर दर्ज हो गई है इसके बाद इस मामले में पुलिस ने फिर से जांच शुरू कर दी है

Hostel in Manali

House of Amigos, Top rated best boutique Youth Hostel in Manali

Leave a Reply