Advertisements

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने द्रंग में की करोड़ो के शिलान्यास और घोषणा

  • ललित ठाकुर । पधर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि द्रंग विधानसभा क्षेत्र की चौहारघाटी के बरोट, झटिंगरी और पराशर के साथ साथ मंडी जिला के अन्य अनछुए पर्यटन स्थलों को विकसित करने की योजना प्रदेश सरकार ने बनाई है। छोटी काशी में पर्यटकों को रुकने और आकर्षण का केंद्र मुहैया करवाए जाएंगे। इस दिशा में आगे बढ़ कर काम किया जा रहा है।

मंडी का नाम बदलकर मांडव ऋषि रखने के लिए लोगों के सुझाव आए हैं। इसका निर्णय जनता पर छोड़ रहा हूं, लोग अपने खुले सुझाव इस बारे में रख सकते हैं। इसके बाद इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने सराजी भाषा मे भी लोगो को भी हसाया ।
उन्होंने कहा कि मंडी शिवरात्रि मेले को अंतरराष्ट्रीय मेला केवल मात्र बोला जाता था, जबकि यह मेला अंतरराष्ट्रीय नही था। बीते कल ही इसकी विधिवत रुप से अंतरराष्ट्रीय मेले की अधिसूचना जारी की है।
मांडव नगरी आज दुनिया का आकर्षण का केंद्र बन कर तैयार हो रही है। यहां हर जगह टूरिस्ट डेस्टिनेशन विकसित करने की कोशिश पूरे प्रदेश में की जा रही है।उन्होंने कहा कि बजट जो अबकी बार पेश किया गया है, उसमें किसानों, बागवानों, बेरोजगारों, मजदूरों और कर्मचारियों सहित आम वर्ग का ध्यान रखा गया है। पीटीए और पैरा टीचर को रैगुलर कर्मचारी की तर्ज पर सुविधा देने की घोषणा की है।
उन्होंने कहा कि आज देश मे मजबूत नेतृत्व मोदी जी के रूप में हमें मिला है। पाकिस्तान ने जिस नीच हरकत से हमारी सेना के जवानों पर हमला किया है। उसका उसी अंदाज से मोदी जी पाकिस्तान को जबाब देंगे। मोदी जी का नेतृत्व हिमाचल प्रदेश के लिए वरदान के रूप में है। एक प्रधानमंत्री इस छोटे से प्रदेश के शपथ ग्रहण समारोह में दिल्ली से शिमला पहुंचते है। सरकार के एक साल का कार्यकाल पूरा होने पर धर्मशाला पहुंचते हैं। हमने कुल्लू में नदी में फंसे 22लोगों और लाहौल स्पीति में बर्फ में फंसे लोगों को सेना के तीन हेलीकॉप्टर की मांग उठाई थी
केंद्र सरकार ने सात हेलीकाप्टर हमें यहां प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए भेजे।
मोदी जी को हिमाचल की एक एक सड़क और गांव का नाम टिप्स पर याद है, पूछते हैं जय राम वो गांव सड़क से जुड़ा या नही। ये सब आप सब जनता के आशीर्वाद से संभव हुआ है। उज्ज्वला योजना के अंतर्गत हर घर मे गैस चूल्हा पहुंचाने की कोशिश की है। आने वाले समय मे कोई घर ऐसा नही होगा जहां गैस का चूल्हा नही होगा।
2014 के लोकसभा चुनाव में प्रदेश की चारों सीट भाजपा ने जीती थी। इस बार भी चारों सीटों को जीत कर मोदी जी की झोली में डालेंगे।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि द्रंग की जनता को 127 करोड़ रुपए की सौगातें आज मिली हैं। द्रंग की जनता का सहयोग दिल खोल कर पहली बार मिला है। अन्यथा द्रंग थोड़े से फासले से भाजपा के हाथ से छिटकता था। इस बार द्रंग की जनता ने इस कमी को पूरा किया है।
उन्होंने कहा कि इससे पहले एक बार द्रंग का कार्यक्रम बनाया था, लेकिन मौसम खराब होने के कारण में पराशर नही पहुंच पाया। पराशर के प्रति मेरी अपार आस्था है। मौसम को देख कर शीघ्र ही पराशर और बरोट का दौरा करूंगा। द्रंग और सराज की बोली भाषा, रिस्ता नाता, एक तरह की पहाड़ी है।
जिस तरह सराज ने मुख्यमंत्री बनने पर जश्न मनाया, उसी तरह का जश्न द्रंग में भी मनाया गया। 70 साल बाद यह अवसर मिला। चारों संसदीय क्षेत्रों शिमला, कांगड़ा, और हमीरपुर ने सीएम देखा था, मंडी संसदीय क्षेत्र महरूम था। हमने ऐसी कोई स्कीम नही बनाई थी, लेकिन ऊपर वाले ने मंडी को स्कीम बना कर दे दी। जिंदगी में कभी कभी ऐसा अवसर आता है, जब सम्मान और स्वाभिमान का अवसर मिलता है। यह सम्मान और स्वाभिमान आज मंडी को मिला है। इसका भी आदर होना चाहिए।

सरकार ने एक साल का कार्यकाल काम करते करते पूरा किया है। आज द्रंग के साथ 66 विधानसभा क्षेत्र का दौरा पूरा किया है। सभी 68 विधानसभा क्षेत्र के दौरा करने की योजना बनाई गई है। लोगों ने मुझे और मैंने लोगों को समझने की कोशिश की है।

House of Amigos

House of Amigos | For a great adventure in Manali !

प्रदेश में सत्ता परिवर्तन हुआ है हमे प्रतिशोध नही बल्कि कामकाज में तौर तरीकों पर परिवर्तन लाना चाहिए। लेकिन पूर्व की सरकारें ऐसा नही करती थी। सरकार ने बुजुर्गों का सम्मान करते हुए हट कर काम करने की कोशिश की है, प्रदेश में नई शुरुआत के साथ काम करने को तरजीह दी है। 70 साल से ऊपर के सभी बुजुर्गों को पेंशन हमारी सरकार दे रही है।

द्रंग में पूर्व में आईपीएच योजनाओं में यहां से आईपीएच मंत्री होने के बावजूद कोई खास देखने को नही मिला। आज हमने 61 करोड़ की योजना का शिलान्यास किया है। इतनी बड़ी योजना अभी मेरे सराज में भी मंजूर नही हुई है। द्रंग विधानसभा क्षेत्र में अकेले पीडब्ल्यूडी में 175 करोड़ के कार्य प्रगति पर है।
रामस्वरूप शर्मा की तारीफों के पल बांधते हुए उन्होंने कहा कि पतले पतले होने के बावजूद जोशीले हैं। मेरे से रानी नही हारी इन्होंने रानी को हराया।
सराजी भाषा मे बोलते हुए कहा कि इसका मुझे भी दाह था। राम स्वरूप शर्मा ने हेसरू लगाया। पचास हजार से चुनाव जीत कर दिल्ली पहुंचे।
प्रदेश सरकार ने गंभीर बीमारी से ग्रसित रोगियों की तमीरदारी के लिए दो हजार रुपए मासिक राशि देने का फैसला लिया है। साढ़े दस हजार करोड़ रुपए की योजनाएं इस वर्ष केंद्र को मंजूरी के लिए भेजी गई हैं। 25 बीघा से कम जमीन वाले किसानों को 6 हजार सालाना आपके खाते में आएंगे। जय राम ठाकुर ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि जवाहर ठाकुुुर और पूर्ण चंद ठाकुर मिलकर काम कर रहे हैं। भविष्य में भी इसी सहयोग की मुझे आवश्यकता है।
इस दौरान उन्होंने कहा कि पधर में सब जज कोर्ट खोलने की प्रसिडिंग हाई कोर्ट को भेजी गई है। इसके लिए घोषणा नही कर सकता। इस पर काम किया जाएगा।
चौहारघाटी के मध्य क्षेत्र में सिविल अस्पताल खोलने की मांग को लेकर लोगों की सहमति बनने बाद इस पर कार्य किया जाएगा।
उन्होंने पधर में अग्निशमन सब केंद्र खोलने की घोषणा की। वहीं गरलोग और भमसोई मिडल स्कूल को हाई स्कूल स्तरोन्नत करने, प्राथमिक पाठशाला कुन्नू, कासला और मंडाह को मिडल करने, चौहारघाटी के सुधार और साहल में विज्ञान भवन को मंजूरी दी।
द्रंग में छात्राओं के लिए अटल आदर्श विद्यालय खोलने की भी घोषणा की।
वहीं विधायक जवाहर द्वारा सड़क निर्माण को लेकर की गई मांग पर एस्टीमेट बंनाने की बात कही।
सिंगारी-बाबली-छाहड़ी सड़क के लिए सात लाख, खजरी-गलमाठा सड़क के लिए सात लाख, धमच्याण-ग्रामण-पजौंड के लिए दस लाख, बल्ह-टिक्कर-सरणी-जोरला सड़क के लिए सात लाख, धरमेहड़-गढगांव सड़क को पांच लाख, नवलाय-गाहर सड़क को पांच लाख, घोघरधार-स्तनोग सड़क को दस लाख, फागनी-स्नोहल-बुगात सड़क को पांच लाख, पाटन-कथोग सड़क को पांच लाख, मुल्थान-बरोट पुल के लिए एक करोड़ पचीस लाख रुपए, दमेला में पैदल पुल के लिए पर्याप्त धन राशि,
हरड़गलू में हैलीपैड निर्माण और मैदान को चौड़ा करने के लिए पांच लाख रुपए देने की घोषणा की।
वहीं पराशर में भी हैलीपैड निर्माण की संभावनाए तलाशने का भरोसा दिलाया।
उन्होंने कहा कि पधर में लोक निर्माण विभाग का डिवीजन खोलने के लिए जस्टीफेक्शन तैयार की जाएगी। टिक्कन में पुलिस चौकी को लेकर भी रिपोर्ट तैयार की जाएगी।
Hostel in Manali

House of Amigos, Top rated best boutique Youth Hostel in Manali

Leave a Reply